11% Off

67.00 60.00

In Stock

You Save 06 ( 10% )

Compare
Categories: ,

Description

अकीक पिष्टी के फायदे

इसके सेवन से सेक्स का प्रदर्शन ठीक होता है।
इसे वीर्य गाढ़ा होता है।
पैत्तिक रोगों में इसके सेवन से लाभ होता है।
यह घावों और सूजाक में फायदा करती है।
यह पागलपन, बेहोशी, को नष्ट करने वाली दवा है।
यह पुराने घाव, ब्लीडिंग की समस्या, रक्त प्रदर, सुजाक, घाव आदि को ठीक करती है।
यह बुखार की गर्मी को कम करने वाली द्वाइओ है।
यह वात-पित्त नाशक है।
यह शरीर में अथ्य्धिक गर्मी में फायदेमंद है।
यह सभी तरह की हृदय की दुर्बलता में लाभप्रद है।
यह सिर-आँखों के रोग में लाभप्रद है।

अकीक पिष्टी के चिकित्सीय उपयोग

अकिक पिष्टी और अकीक भस्म का प्रयोग विभिन्न रोगों में किया जाता है। रक्तपित, शरीर में अधिक गर्मी, दिल की कमजोरी में अकिक पिष्टी लेने चाहिए जोकि अकीक भस्म से अधिक सौम्य है।
असामान्य गर्भाशय रक्तस्राव Abnormal uterine bleeding
अल्जाइमर रोग Alzheimer’s disease
आंखों में जलन Burning sensation in eyes
आँख आना Conjunctivitis
डिप्रेशन Depression
चिड़चिड़ापन और क्रोध के साथ अवसाद Depression with agitation, irritation and anger
ग्रहणी अल्सर Duodenal ulcer
शरीर के अंदर अत्यधिक गर्मी Excessive heat inside body
पेट में सूजन  Gastritis
सामान्य दुर्बलता General debility
गर्ड GERD
बाल झड़ना Hair loss
दिल की कमजोरी Heart weakness
एसिडिटी Heartburn
हदय क्षेत्र में जलन Hriddaha (Burning sensation in heart region)
हृदय रोग Hridroga (Heart disease)
कास (खाँसी) Kasa (Cough)
क्षय (पीथिसिस) Kshaya (Pthisis)
मानसिक थकान Mental fatigue
ऑस्टियोपोरोसिस Osteoporosis
पित्त दोष के कारण रोग Pitta Roga (Disease due to Pitta dosha
बेचैनी Restlessness
सिर का रोग Shiroroga (Disease of head)
अल्सरेटिव कोलाइटिस Ulcerative colitis
अल्सर Ulcers
वात दोष के कारण रोग Vataroga (Disease due to Vata dosha)

अकीक पिष्टी की सेवन विधि और मात्रा

1- 3 रत्ती / 125mg-375 mg दिन में दो बार, सुबह और शाम लें।
इसे शहद के साथ लें।
इसे भोजन करने के बाद लें।
या डॉक्टर द्वारा निर्देशित रूप में लें।

Additional information

Weight 0.250 kg

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Dhootapapeshwar Akeek Pishti ( 5gm )”

Your email address will not be published. Required fields are marked *