11% Off

324.00 291.00

In Stock

You Save 33 ( 10% )

Compare
Category:

Description

Shatavari Kalpa Benefits:-

महिलाओं की प्रजनन प्रणाली सम्बन्धी मुद्दों का हल 

शतावरी कल्प(Shatavari Kalpa) एक ऐसा टॉनिक है जो महिलाएं मासिक धर्म, गर्भवती होने पर और गर्भवती होने से पहले भी ले सकती हैं| ये कई समस्याओं जैसे अनियमित मासिक धर्म, गर्भाशय से रिसाव, असामान्य योनि रक्तस्त्राव यहाँ तक कि गर्भपात का भी समाधान करता है साथ ही साथ माँ और उसके गर्भस्थ शिशु को भोजन भी प्रदान करता है|

नेपाल की एक आयुर्वेदिक डॉक्टर सरिता श्रेष्ठा, जिनको 25 साल से भी ज्यादा का अनुभव है, के द्वारा 2013 में किये गये एक अध्ययन के अनुसार शतावरी अपने फ़ायटोएस्ट्रोजेन गुणों के कारण महिलाओं में होने वाले मेनोपाज़ के लक्षणों जैसे हॉट फ्लशेस, योनि में सूखापन और अनिद्रा आदि में भी उपयोगी मानी गयी है|

असामान्य स्तन स्त्रवण को प्रोत्साहन

शतावरी स्तनपान करने वाली माताओं के दूध की गुणवत्ता और मात्रा दोनों को ही प्रोत्साहित करता है| स्तनपान करने वाली माताओं को तो यह एक अच्छा पोषण प्रदान करता है|

स्वास्थ्य टॉनिक

शतावरी कल्प(Shatavari Kalpa) एक ऐसा टॉनिक है जो अपने पोषक गुणों के कारण कमजोरी कम करन, प्रतिरक्षा प्रणाली में सुधार करना और सम्पूर्ण स्वास्थ्य का ध्यान रखना जैसे कई प्रभाव डालता है|

रक्तस्त्राव जैसे विकारों का इलाज

गैस्ट्रिक अल्सर, मेनोरहगिया, पेप्टिक अल्सर की वजह से होने वाले रक्तस्त्राव का प्रभावी रूप से इलाज़ करता है| ये खून की धमनियों को सिकोड़ कर स्थानीय और व्यवस्थित रक्तस्त्राव को नियंत्रित करता है|

पुरुषों की प्रजनन सम्बन्धी समस्याएँ सुलझाये

शतावरी पुरुषों में शुक्राणुओं की सख्या में वृद्धि करने के साथ साथ उनकी गुणवत्ता को बढाकर पुरुष बांझपन की समस्या का समाधान करता है|

बैक्टीरिया जनित संक्रमण का इलाज

शतावरी की जड़ों के बारे में खा जाता है कि इनमे बैक्टीरिया के विरुद्ध लड़ने के लिए एंटी माइक्रोबल गुण होते हैं| एंटी बैक्टीरिया होने के साथ साथ इसमें एंटी फंगल गुण भी होते हैं| शतावरी के एंटी माइक्रोबल गुणों का अध्ययन त्रिभुवन यूनिवर्सिटी के माइक्रोबायोलॉजी विभाग द्वारा किया गया|

आँतों के स्वास्थ्य को सुधारे

शतावरी की जड़ें पाचक एंजाइमों जैसे लीपस और अम्यलास की क्षमता को बढाकर पाचन तन्त्र को सुधारती हैं| ये यह आमाशय के अल्सर का भी इलाज करती हैं|

उच्च कोलेस्ट्रोल के प्रबंधन में सहायता

शतावरी पाउडर बुरे कोलेस्ट्रोल के स्तर को कम करता है और अच्छे कोलेस्ट्रोल के स्तर को बढ़ाता है| यह ट्राइग्लिसराइड के स्तर को भी कम करता है|

मधुमेह का इलाज

शतावरी की जड़ें खून में ग्लूकोस की मात्रा के स्तर को कम करके मधुमेह के प्रबंधन में भी सहायक हैं| यह अग्नाशय में इन्सुलिन के उत्पादन को भी प्रेरित करती हैं|

Also Read: Septilin ke Nuksan | Shankhpushpi ke Nuksan | Shatavari Churan ke Nuksan

शारीरिक और मानसिक बीमारियों का इलाज

शतावरी शारीरिक और मनोवैज्ञानिक समस्याओं जैसे तनाव और अवसाद के साथ-साथ चिड़चिड़ाहट के इलाज में भी उपयोगी है।

 शतावरी कल्प की मात्रा

  • इसको दिन में दो बार 1 से 2 चम्मच तक दूध के साथ लिया जा सकता है|

Additional information

Weight 0.500 kg

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Dhootpapeshwar Shatavari Kalpa Granules ( 350 gm )”

Your email address will not be published. Required fields are marked *